शिक्षक–शिक्षि काओं के सतत पेशेवर वि कास का मंच बनती : संकुल–स्तरीय मासि क बैठकें

(APU), Azim Premji University (2019) शिक्षक–शिक्षि काओं के सतत पेशेवर वि कास का मंच बनती : संकुल–स्तरीय मासि क बैठकें. Paathshaala Bhitar aur Bahar, 1 (2). pp. 151-166.

[img]
Preview
Text - Published Version
Download (434kB) | Preview

Abstract

संकुल संसाधन केन्द्र (सीआरसी) और ब्लॉक संसाधन केन्द्र (बीआरसी), शैक्षणि क कार्यप्रणाली में सुधार के लिए शिक्षक–शिक्षि काओं को प्रशिक्षि त करने के प्राथमि क उद्दे श्य से केन्द्र प्राय ोजि त ‘ज़िल ा प्राथमि क शिक्षा कार्यक्रम’ (डीपीईपी) के अन्तर्ग त 1994 में शुरू कि ए गए थे। सर्व शिक्षा अभिय ान (एसएसए) के अन्तर्ग त इन केन्द्रों की अवधारणा को और व्या पक बनाते हुए इनमें शिक्षक–शिक्षि काओं को सतत अकादमि क सहयोग देने की व्यवस्था भी शामिल की गई। इस रणनीति के अभि न्न हि स्से के तौर पर, सीआरसी समन्वय क से यह अपेक्षा की जाती है कि वे हर महीने बैठकों का आयोजन करेंगे जहाँ उस संकुल की शिक्षक–शिक्षि काएँ एक–दूसरे से संवाद कर सकें व कक्षा में सामने आने वाली चुनौतिय ों पर बातचीत कर सकें , और मिल जुलकर उनका समाधान खोज सकें । चूँकि ज़्या दातर समन्वय क प्रशासनि क कामों के बोझ तले दबे रहते हैं, इसलिए अकसर इन बैठकों को सिर्फ़ प्रशासनि क कामकाज और आँकड़े इकट्ठा करने जैसे व्यवहारि क मसलों तक ही सीमि त रखा गया। सं.

Item Type: Articles in APF Magazines
Uncontrolled Keywords: Education, School education, Quality education, Educational reforms, Azim Premji Foundation school
Subjects: Social sciences > Education
Divisions: Azim Premji University > University publications > Paathshaala Bhitar Aur Bahar
Depositing User: Mr. Sachin Tirlapur
Date Deposited: 05 Mar 2020 10:09
Last Modified: 05 Mar 2020 10:09
URI: http://publications.azimpremjifoundation.org/id/eprint/2235
Publisher URL:

Actions (login required)

View Item View Item