बालिका विद्यालय में जेंडर की निर्मिति और उसके सामजिक निहितार्थ

विहान, रंजना (2021) बालिका विद्यालय में जेंडर की निर्मिति और उसके सामजिक निहितार्थ. Paathshaala Bhitar aur Bahar, 3 (7). 36 -44.

[img] Text - Published Version
Download (266kB)

Abstract

जेंडर एक सामाजिक निर्मिति हे| हमारे समाज में जेंडर यानि लिंग भेदभाव की जड़ें बहुत गहरी हैं, जिसे हम रोजमर्रा के जीवन में पल प्रतिपल देखते और महसूस करते हैं| जेंडर से जुडी असमानताएँ अन्य तरह के भेदभावों को भी जन्म देती हैं|

Item Type: Articles in APF Magazines
Authors: विहान, रंजना
Document Language:
Language
Hindi
Uncontrolled Keywords: Education, School education, School, Gender, Gender discriminations
Subjects: Social sciences > Education
Divisions: Azim Premji University > University Publications > Pathshala Bheetar Aur Bahar
Full Text Status: Public
URI: http://publications.azimpremjifoundation.org/id/eprint/2704
Publisher URL:

Actions (login required)

View Item View Item