गणित सिखने की भाषा, संवाद और शिक्षक व विद्यार्थी के बीच बातचीत का महत्तव

UNSPECIFIED (2022) गणित सिखने की भाषा, संवाद और शिक्षक व विद्यार्थी के बीच बातचीत का महत्तव. Paathshaala Bhitar aur Bahar, 4 (11). pp. 110-125. ISSN 2582-4836

[img] Text - Published Version
Download (3MB)

Abstract

पाठशाला की संवाद शृंखला की यह नौवीं परिचर्चा है। संवाद का विषय है ‘गणित सीखने में भाषा, संवाद और शिक्षक व विद्यार्थी के बीच बातचीत का महत्त्व’। इस संवाद में रवि के. सुब्रमण्यम, प्रोफ़ेसर, होमी भाभा सेंटर फ़ॉर साइंस एजुकेशन टीआईएफ़आर, मुंबई; शहनाज़ डी.के. शिक्षक उदयपुर राजस्थान; अशोक प्रसाद, अज़ीम प्रेमजी फ़ाउण्डेशन, श्रीनगर, उत्तराखंड; हृदयकान्त दीवान, प्रोफ़ेसर, अज़ीम प्रेमजी विश्वविद्यालय, बेंगलूरु; बीना जैन, शिक्षिका, राजकीय प्राथमिक विद्यालय, नवीन ज्योतिनगर, जयपुर; सुधीर श्रीवास्तव, अवकाश प्राप्त प्राध्यापक, एससीईआरटी, रायपुर छत्तीसगढ़ और सुनील कुमार वर्मा, अज़ीम प्रेमजी फ़ाउण्डेशन, खुरई, ज़िला सागर ने अपने विचार साझा किए हैं।

Item Type: Articles in APF Magazines
Document Language:
Language
Hindi
Uncontrolled Keywords: Education, Mathematics
Subjects: Social sciences > Education
Divisions: Azim Premji University > University Publications > Pathshala Bheetar Aur Bahar
Full Text Status: Public
URI: http://publications.azimpremjifoundation.org/id/eprint/3443
Publisher URL:

Actions (login required)

View Item View Item